भगवद गीता अध्याय 15.1~संसाररूपी अश्वत्वृक्ष का स्वरूप और भगवत्प्राप्ति के उपाय     

भगवद गीता अध्याय 15.1~संसाररूपी अश्वत्वृक्ष का स्वरूप और भगवत्प्राप्ति के उपाय

अध्याय पन्द्रह (Chapter -15) भगवद गीता अध्याय 15.1 में शलोक 01 से  शलोक 06 संसाररूपी अश्वत्वृक्ष का स्वरूप और भगवत्प्राप्ति के उपाय …

Read more